Great Pyramid of Gizam – गीज़ा का विशाल पिरामिड (मिस्त्र)


मिस्र के पिरामिडों का निर्माण यहाँ के राजाओ को दफ़नाने के लिए किया जाता था. इन पिरामिडों में राजाओ को दफ़नाने के लिए राजाओ के सवो के साथ खान पिने की वस्तुए और कपडे और होथियारो को भी उनके साथ दफनाया जाता था इतना ही नहीं इन राजाओ के जीवित सेवक और सेविकाओं को भी राजा के साथ उस हे पिरामिड में राजा के साथ दफनाया जाता था  वहाँ के लोगो का मनना था राजा किसी दूसरी दुनिया में जायेगे तो उनको इन सब चीजो की आवश्यकता पड़ेगी इन राजाओ के शवो को मम्मी कहाँ जाता था. 
मिस्त्र में निर्मित  इन पिरामडों की रचना एक पहेली जैसी  है. यहाँ पर  राजा फाराओह खुफु (Pharaoh Khufu) की याद में बनाये गए  पिरामिड की खासियत यह है कि इस पिरामिड के  पत्थरों को पानी में काट कर, एक के ऊपर एक पत्थर को रख कर बनाया गया है. पिरामिड के पत्थरों को कुछ इस तरह से एक दूसरे के पुर रखा गया है कि इसके बीच में एक बाल घुसने की भी जगह नहीं है. यह पिरामिड अब तक समय की मार झेलता बिना छती हुआ खड़े हुए है. गणित का इस्तेमाल करते हुए  शिल्पकारो ने इस रचनाओ को आकार दिया था.

1 comment: