Select Language

Search Here

स्वस्थ रहने के लिए नियम

आज की आधुनिक जीवन शैली की तेज रफ्तार एवं भागदौड़ भरी जिंदगी में सेहत का विषय बहुत पीछे रह गया है जिसका नतीजा यह निकला है की आज के समय हम युवावस्था में ही ब्लडप्रेशर, मधुमेह , ह्रदयरोग, कोलेस्ट्रोल, मोटापा, गठिया, थायरॉइड जैसे अनेक बीमारियों से ग्रसित होने लगे हैं जो कि पहले प्रोढ़ावस्था एवं व्रद्धावस्था में होते थे और इसकी सबसे बड़ी वजह है खान पान और रहन-सहन की गलत आदतें, आओ हम सेहत के इन् नियमों का पालन करके खुद भी स्वस्थ रहे तथा अन्य लोगों को भी अच्छे स्वास्थय के लिए जागरूक करें ताकि एक स्वस्थ एवं मजबूत समाज और देश का निर्माण हो,क्योंकि कहा भी गया है- कि पहला सुख निरोगी काया है

हमारा भोजन हो संतुलित होना चाहिए -
अधिक घी, तैल से बनी चीजें जैसे छोले भठूरे,समोसे कचौड़ी, जंक फ़ूड,चाय, कोल्ड ड्रिंक का ज्यादा सेवन सेहत के लिए बहुत हानिकारक है इनका अत्यधिक मात्रा में लगातार सेवन ब्लड प्रेशर ,कोलेस्ट्रोल, मधुमेह, मोटापा एवं हार्ट डिजीज का कारण बनता है तथा पेट में गैस, अल्सर, ऐसीडिटी, बार बार दस्त लगना, लीवर ख़राब होना अनेको तकलीफें होने लगती हैं इनकी बजाय खाने में हरी सब्जियां, दूध, दही, फल,  छाछ और सलाद को शामिल करना चाहिए जो हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं एक  चीनी और  नमक का अधिक मात्रा में सेवन ना करें, ये डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, ह्रदय रोगों का कारण हैं  पानी एवं अन्य लिक्विड जैसे फलों का ताजा छाछ, नींबू पानी, जूस, दूध, दही, नारियल पानी का खूब सेवन करें, इनसे शरीर में पानी की कमी नहीं होती है शरीर की त्वचा एवं चेहरे पर चमक आती है,तथा शरीर की गंदगी पसीने और पेशाब के दवारा बाहर निकल जाती है l

७ घण्टे की गहरी नींद भी जरुरी है -
आपने शरीर तथा मन को स्वस्थ रखने के लिए प्रतिदिन लगभग 7 घंटे की गहरी नींद एक वयस्क के लिए जरुरी है, लगातार नींद पूरी ना होना तथा बार-बार नींद खुलना, अनेक बीमारियों का कारण बनता हैl

व्यायाम का नियमित अभ्यास कारन चाहिए –
हमें प्रतिदिन सूर्योदय से पहले उठकर पार्क जाकर, हरी घास पर नंगे पैर घूमें, दौड़ लगाएं, वाक करें, योगा, प्राणायाम करें, इन उपायों से शरीर से पसीना निकलता है तथा माँस पेशियों को ताकत मिलती है, शरीर में रक्त का संचार बढ़ता है, अनेक शारीरिक एवं मानसिक रोगों से बचाव होता है, पूरे दिन भर बदन में चुस्ती फुर्ती रहती है तथा भूख अच्छी लगती है इसलिए नियमित रूप से व्यायाम जरूर चाहिए।

टेंशन को कहें बाय बाय -
आपको रोजमर्रा की जिंदगी में आने वाली अनेक समस्यों के लिए चिंता नहीं करनी चाहिए, चिता तो फिर भी मरने के बाद शरीर को जलाती है किन्तु लगातार अनावश्यक चिंता जीते जी शरीर को है इसलिए तनाव होने पर भाई, बंधू एवं विश्वास पात्र मित्रों से सलाह मश्वरा करें यदि समस्या फिर भी ना सुलझे तो किसी विशेषज्ञ से राय लें l

अच्छी नींद के लिए ये उपाय करें-
आचि नींद के लिए सोने का कमरा साफ सुथरा एवं शांत में होना चाहिए, रात को अधिकतम 10 या 11 बजे तक सो जानाचाहिए और सुबह 5 या 6 बजे तक उठ जाना स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा है, सोने से पहले शवासन करने से अच्छी नींद आती है, खाना सोने से 2 या 3 घंटे पहले कर लेना चाहिए एवं शाम को खाना खाने के बाद 20 से 25 मिनट अवश्य घूमना चाहिए l

हमेसा नशे से बच के रहें -
नशा यूवा पीढ़ी के लिए सबसे खतरनाक बीमारी है, शराब, धूम्रपान, तम्बाकू ये सब सेहत के दुश्मन हैं, किसी भी स्थिति में नशे की लत से बचें, यदि नशे से बचे हुए हैं तो बहुत अच्छा किन्तु, यदि कोई नशा करते हैं तो जितनी जल्दी नशे से दुरी बना लें उतना ही अच्छा है, ये ऐसी बीमारी है जो कैंसर और एड्स से भी ज्यादा खतरनाक है और एकसाथ कई परिवारों को बर्बाद कर है तथा शारीरिक, मानसिक, आर्थिक एवं सामाजिक प्रतिष्ठा के नाश का कारण बनती है.


                                                                                                                                                 - हैल्थ इज वैल्थ

No comments:

Post a Comment

        
https://www.amazon.in/b?_encoding=UTF8&tag=ravindrakmp-21&linkCode=ur2&linkId=45388d874ca33ffb2ea0a19c1e71b553&camp=3638&creative=24630&node=1318105031

Watch Video and Improved Your Knowledge Very Fast

Watch Video and Improved Your Knowledge Very Fast
Improved Your Knowledge By Video

Join Knowledge Word Community