गोलरोटेड वायरस से कम्प्यूटर को क्या खतरा है - Golroted Virus

भारत में कम्प्यूटर वैज्ञानिको कम्प्यूटर यूज़र्स को सूचित किया है कि यदि आप कंप्यूटर का प्रयोग करते है तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए क्योकि दावा किया जा रहा है कि ट्रोजन केटेगरी में एक नया वायरस गोलरोटेड नाम से आया है। ये कंप्यूटर वायरस कंप्यूटर में बहुत ही आसानी से एन्टर कर जाता है। और ये आपके कम्प्यूटर की पर्सनल इनफार्मेशन को चोरी कर लेता है। गोलरोटेड वायरस आपके कंप्यूटर में ईमेल के अटेचमेंट जैसे ZIPPED और ARCHIVED या MICROSOFT OFFICE DOCUMENTS के जरिये एंटर कर जाता है। एक वायरस के द्वारा आने वाला ईमेल बहुत ही ORIGINAL और GENUINE लगता है। गोलरोटेड वायरस एक बार कंप्यूटर में प्रवेश करने के बाद यूजर की विभिन्न जानकारी जैसे COMPUTER NAME, LOCAL DATE, TIME , इन्टरनेट प्रॉटोकॉल एड्रेस और अन्य सेंसेटिव सिस्टम डिटेल्स आदि शामिल है। 
यफ कंप्यूटर वायरस एक बार सिस्टम में घुसने के बाद KEY STORKES LOG, SCREEN SHOT CAPTURE कर सकता है। 
यह SAVED PASSWORD के लिए वेब ब्राउज़र स्क्रैप कर सकता है। और ब्राउज़िंग हिस्ट्री आदि की जानकारी ले सकता है। इसके तहत वह बैंक डिटेल्स, ईमेल जैसी कई जानकारिया  होती है। जिन्हें ये वायरस चुरा लेता है। इस वायरस से बचने के लिए आपको आपने कंप्यूटर में एंटी मालवेयर इंजन इंसटाल करना चाहिए और उसे हमेसा अपडेट करते रहना चाहिए। और समय समय पर अपने कम्प्यूटर एंटी वायरस से स्कैन करते रहना चाहिए।

No comments:

Post a Comment